FeaturedSEO

What is Keyword Stuffing in SEO in Hindi

क्या आपको पता है Keyword What is Keyword Stuffing in Hindi) और कैसे ये  SEO के उपर असर डालता है. अगर आप जानना चाहते की इसको कैसे रोकें मतलब कैसे keyword spamming से बचें. इन सभी की जानकारी  इस लेख आपको मिल जाएगी.

हर Blogger यही चाहता है की कैसे उसका blog और post दोनों Google के पहले page पे नजर आए. लेकिन इसके लिए वो SEO का सहारा लेना पसंद करता है क्यूंकि थोडा बोहत सबको पता है की SEO से page को आसानी से rank किया जा सकता है.

SEO में keyword research को भी ध्यान में रखना पड़ता है. फिर इसके चक्कर में Keyword को पोस्ट में गलत तरीकों से और बार बार इस्तेमाल करने लगते हैं. इसी वजह से Blogger के साईट का rank और post का rank down हो जाता है. Income पे भी फरक पड़ता है. इन सब के पीछे एक ही वजह होती है जिसके बारे मैं इस लेख में बात करूँगा. देरी किस बात की चलो blogging के बारे में आज कुछ नया सीखते है.

keyword stuffing एक गलत तरीके से पेज को रैंक और Google में पहले page में लाने की technique है. जिसमें एक blogger page content और meta tags में एक ही phrase या जिसको हम और आप target keyword बोलते हैं, इसको Artificial रतरी के से पेज के content के बिच में repeat किया जाता है. पेज को search result में सबसे पहले rank करने के लिए. इस तरीके से site की traffic भी बढाई जा सकती है. लेकिन ये कुछ समय के लिए ही काम करता है.

अब एक उदाहरण लेलो “Blogging से पैसे कैसे कमाए, blogging आज कल हर किसीको करना चाहिए, blogging के Field में Success होने के लिए आपको बोहत इंतजार करना होगा. blogging में कम समय में बोहत कुछ कर सकते हो”. अब यहाँ पे देखे होंगे कितनी बार Blogging word को इस्तेमाल किया गया है. इसीको हम और आप Keyword stuffing बोल सकते हैं. एक ही sentence को अगर आप rank करने के लिए आगर repeatedly इस्तेमाल किया जा रहा है, तो इसको ही ये keyword spamming बोलने में कोई फरक नहीं पड़ता है.

keyword कुछ और नहीं ये वो सवाल है जिसको user, Search Engine में search करता है. ये  technique, Google Guide Lines के Against है. या Unethical SEO technique भी बोल सकते हो. मैं  इसको अपनी language में बोलू तो “page को गलत तरीके से rank करने का सबसे best तरीका है. लेकिन ये तरीका आज के समय में Google के expert algorithm के सामने जादा समय तक टिक नहीं सकते है.

Blogger Keyword Stuffing कहाँ कहाँ करता है

अब आपको ये जान लेना बोहत ही जरुरी है की एक word या phrase को repeat कहाँ कहाँ कर सकता है. वैसे दो खास जगह है जहाँ एक Blogger ये गलती कर बैठता है. एक तो Content के अंदर और दूसरा meta tag के अंदर. इसके अलवा भी और दो Places है. जहाँ ये गलती करता है. page URL और Post Title में यहाँ पे भी Keyword stuffing होने की संभावना है. चलिए इसके बारे में Details में जानते हैं.

  1. blogger या content writer page के अंदर जहाँ Keywords को 1% से 2% के अंदर रखना चाहिए. वहां SERP के चक्कर में 5% से 10% Words का इस्तेमाल कर लेता है. यही गलती Blogger मतलब आपको काफी महंगी पड़ जाती है. महानत करो Quality content और Users को क्या चाहिए इसपे Focus कीजिए.
  2. Meta tag जिसको blog spot में Description भी बोलते हैं. यहाँ बी Blogger keywords को बार बार इस्तेमाल करने लगता है. बस यहीं से गलती सुरु होती है लेकिन क्या ये सही है, नहीं. इस लिए जो content में है उसी के बारे में meta tags में लिखें. हो सके तो description में ही 140 से 160 words के अंदर लिखें.
  3. Post Title में भी कुछ Blogger गलती कर बैठते हैं. इसमें भी कुछ Writers 2 से 3 बार phrase प्रयोग कर ते हैं और Keyword density बढ़ा देते हैं.
  4. Page title में भी words Spamming होने के chances हैं. लेकिन क्या आपको पता है bloggers Page title में भी 2 से 3 बार Focus word का इस्तेमाल करते हैं.

Keyword Stuffing से SEO और Rank पे क्या असर पड़ता है

अबतक तो आप जान ही गए होंगे की क्या है Keword spamming. अब आपको ये भी जान लेना बोहत ही जरुरी है की क्या ये सच में SEO के लिए बोहत ही Danger है. या क्या Google आपके site Banned या Penalized कर सकता है. तो इन सब का जवाब है, हाँ. क्यूँ चोंक गए. अब ध्यान से सुनो क्या क्या हो सकता है. जब आप इस तरीके के को इस्तेमाल करते हो. एक एक कर के जानते हैं.

  • आप जितना भि SEO पे ध्यान दिए हों अपने Article पे वो सब बेकार हो जाए गा.
  • आप सोच भी नए होंगे कीतनी दूर तक आपका post का search engine से बहार चली जाएगी.
  • आपके post को SERP में दिखाए गा ही नहीं.
  • इसके ज्यादा इस्तेमाल से site को google के द्वारा penalized भी किया जा सकता है.
  • अगर आप KEYWORD repeat बार बार कर रहे हैं तो आपकी site को temporary या permanent के लीए Block होने की संभावना है.
  • Readers को post पड़ने में Boring लगता है और वो कभी बी दोबारा आपके post को पढेंगे ही नहीं.
  • Article Boring बन जाता है इस के इस्तेमाल से.

अब दौर बदल चूका है, ये वो दौर नहीं है जब Blogger Keyword stuffing की मदद से बड़ी आसानी से post को 1st page में rank कर देता थे. गूगल बावला नहीं है.

Blogger Keyword Stuffing क्यूँ करते हैं

ये बड़ा ही मजेदार सवाल है, हर नया Blogger जानना चाहता है की आखिर क्यूँ. तो जानते है क्यूंकि अभी भी ये लेख पढने के बाद भी कुछ लोग यही गलती दोबारा करेंगे. एक तो कम समय के अंदर अगर अच्छा income करना चाहते हैं. तो कुछ Blogger समझते हैं ये एक अच्छा तरीका है. तीसरी बात कम समय के अंदर आगर आपको अपने post को पहले page पे लाना है तो ये एक अच्छा तरीका है. क्यूंकि कुछ समय बाद page का position दूर दूर तक कहीं दिखेगा ही नहीं.

कुछ लोगों को तो Google को उल्लू बनाने में बड़ा मजा आता है इसलिए इस तरीके का इस्तेमाल करते है. लेकिन आखिर में यही उपदेस देना चाहूँगा की ये सब Temporary है कुछ समय बाद अपने आप rank भी चला जाएगा. post का postion google search से बहार चला जाएगा.

keyword stuffing से कैसे बचें और रोकें

अब ये जानना तो बोहत जरुरी है, क्यूंकि कुछ अच्छे content और Natural तरीके से लिखते हैं लेकिन क्या आपको पता है फिर भी वो post google search में दिखाई नहीं देता है. जाने अनजाने में में वो इस technique का सीकर हो जाते हैं. एक एक करके इसके बारे में चर्चा करेंगे.

  1. post को जितना हो सके Natural तरीके से लिखें ना ही आपको Keyword पे ध्यान देना है नो किसी और तरीके पे. जब आप एसे quality article लिखने लगोगे तो आपके Keywords अपने आप add हो जायेंगे.
  2. Keyword Density और Keyword Stuffing एक दुसरे से Direct Link है. मतलब Keyword density जितना अत्यधिक होगा Keyword Stuffing भी बढ़ जाए गा. इसलिए मेरी आप सभी से मेरी  यही राय है की density 1% से 2% रखें.
  3. Post को Boring न बनाएं. मेरा बोलने का यही मतलब है की आपका post Boring कब होगा जब आप phrase को या words को बार बार Repeated मतलब more than Limit से इस्तेमाल करने लगो गे.
  4. LSI keywords पे ज्यादा ध्यान दें नकी target words पे जिसको लोग search करते है. LSI मतलब जो लोग सर्च करते हैं उनके नजदीकी सब्द का प्रयोग करें. या जिनको English में Synonyms (प्रतिसब्द) बोलते हैं. जैसे IRCTC से train Ticket कैसे बनाएं. दूसरा Online Train Ticket कैसे book करें. तीसरा train में यात्रा करने के लिए ticket कैसे book करें. कुछ इस तरह targeted words का इस्तेमाल करें.
  5. content हमेसा complete लिखें जिस्से आप उसके बारें में पूरी जानकारी दे सकें और related topic भी उसी post के अंदर आ जाने चाहिए.
  6. जितने भी Heading हैं उनमे अगर जरुरत पड़े तो Keywords का प्रयोग करें वरना मत करें.
  7. meta tag या description में आपके content को summerize करके लिखें उसमे कभी बी phrase को repeat ना करें. LSI का इस्तेमाल कर सकते हो.
  8. High Quality Content पे और User Friendly content लिखें. आखिर में यही बोलूँगा की कुछ इस तरह लिखें की आपको Google नाहीं कभी banned करे ना कभी post की position search में पहले बनी रहे . User को क्या चाहिए उसके बारे में ज्यादा सोचें.

मेरी अंतिम राय इस लेख पे

तो दोस्तों आज की जानकारी हर नए और पुराने Bloggers के लिए काफी महत्वा पूर्ण है. क्यूंकि इसमें जो भी बताया गया Keyword stuffing क्या है और कैसे ये SEO के लिए Danger है. इस लेख से  अगर कुछ मददगार हुआ तो मेरे लिए अछि बात है. लेकिन आप अगर Blogger हो तो Short term के लिए मत सोचें हमेसा Long Term Goal के बारे में सोंचे. आप अपना किमिति समय दे रहे हैं क्यूँ न उसे पुरा दें.

उमीद है ये लेख पसंद आया होगा, कैसा लगा आप जरुर निचे comment कर के बताइए. अगर अभी बी कोई सवाल आप पूछना चाहते हो तो निचे Comment Box में जरुर लिखे. और कोई सुझाव देना चाहते हो तो जरुर दीजिये जिस्से हम आपके लिए कुछ नया कर सके. हमारे Blog को अभी तक अगर आप Subscribe नहीं किये हैं तो जल्दी से Subscribe कर लें. चलो बनायें Digital India Hindinetwork के साथ, जय हिंद, जय भारत, धन्यवाद.

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close
Close